7 important point and you can book summary in hindi

YOU CAN जॉर्ज मैथ्यू एडम्स (George Matthew Adams) एक अमेरिकी लेखक, समाचार लेखक, स्पीच डिलीवरर और संग्रहकर्ता थे। वे समाज सुधार और स्वयंसेवा के बारे में लिखते थे। उनका जन्म 23 अगस्त 1878 को कलिफोर्निया के सांता क्रुज़ में हुआ था। उन्होंने एक अधिवक्ता के बेटे के रूप में शिक्षा प्राप्त की और न्यूयॉर्क लॉ स्कूल में अध्ययन किया।

7 IMPORTANT POINT of you can

1.आपके विचार आपकी दुनिया बनाते हैं।


2. जीवन में सफलता के लिए आपको अपने आप में विश्वास होना चाहिए।


3. कुछ भी असंभव नहीं है, सब कुछ संभव है।


4. संघर्ष के बिना कोई भी महान उपलब्धि संभव नहीं होती।


5. जीवन में सफलता पाने के लिए आपको सकारात्मक सोचना चाहिए


6. अपने सपनों को पूरा करने के लिए आपको कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है।


7. सफलता के लिए आपको अवसरों को पहचानना और उनका फायदा उठाना होगा।

एडम्स ने अपनी करियर शुरू की और बाद में वे स्वतंत्र लेखक बन गए। उन्होंने स्वयंसेवा और समाज सुधार के मुद्दों पर लेख लिखा और न्यूयॉर्क वर्ल्ड टेलीग्राफ में संवाद स्तंभ लिखा। उन्होंने व्यापक रूप से अमेरिका भर में बोले और समाज सुधार को बढ़ावा दिया।

7 important point and you can book summary in hindi
image credit-pixabay.com

एडम्स की लेखनी शैली उनके उदारवादी दृष्टिकोण और उनकी अद्भुत ज्ञानवर्धक शक्ति के कारण अलग-अलग श्रेणियों में शामिल है। उन्होंने बचपन से ही स्वतंत्र विचारों को समर्थन किया था और उन्होंने स्वतंत्रता को महत्वपूर्ण बात समझा था।

जॉर्ज मैथ्यू एडम्स एक अमेरिकी लेखक, वक्ता और समाज सुधारक थे। उन्होंने अपने जीवन में विभिन्न क्षेत्रों में काम किया जैसे कि व्यापार, जन सेवा और समाज सुधार। उन्होंने अपने जीवन में बहुत से उपलब्धियों को हासिल किया जो उन्हें एक सफल व्यक्ति बनाती हैं।

उन्होंने अपनी शिक्षा स्थानीय स्कूलों से हासिल की और बाद में स्टार्क्स स्कूल ऑफ ग्रामर एंड हाई स्कूल में अध्ययन किया। उन्होंने अपनी शुरुआती कैरियर केमिकल व्यवसाय में शुरू की, लेकिन उन्होंने अपना उत्पादन कारोबार छोड़ दिया और उन्होंने अपनी निरंतर शिक्षा और ज्ञान विस्तार की शुरुआत की।

जॉर्ज मैथ्यू एडम्स ने उन दिनों समाज सुधार के काम करना शुरू किया था। उन्होंने अपनी पहली पुस्तक “चलो, सोचते हैं” को 1891 में लिखा था।

जॉर्ज मैथ्यू एडम्स अमेरिकी लेखक, रेडियो वाणिज्यिक और वक्ता थे। उन्होंने अपनी लेखनी के माध्यम से लोगों को समझाया कि वे कैसे अपने जीवन में सफलता प्राप्त कर सकते हैं। उनके विचारों और उपदेशों का मुख्य ध्येय था कि एक व्यक्ति अपने जीवन का संचालन खुद ही कर सकता है। उन्होंने अपनी लेखनी से अपनी सोच को व्यक्त किया और लोगों को उनकी समस्याओं का समाधान ढूंढने में मदद की।

उन्होंने बॉस्टन यूनिवर्सिटी से स्नातक डिग्री प्राप्त की थी। उन्होंने एक न्यूजपेपर में काम करना शुरू किया और अपनी लेखनी से अपना करियर बनाया।

7 important point and you can book summary in hindi
image credit-pixabay.com

उन्होंने विभिन्न विषयों पर लेख लिखा जैसे धर्म, जीवन शैली, स्वास्थ्य और उत्पादकता। उन्होंने अपनी पुस्तक “द लीडरशिप माइल्स्टोन्स” के माध्यम से लोगों को बताया कि वे कैसे एक उत्कृष्ट नेता बन सकते हैं

उन्होंने अपनी शिक्षा को पूरा करने के बाद कई विषयों पर लेख लिखना शुरू किया। उनकी लेखनी कला में उन्होंने व्यापक ज्ञान, समझदारी, और संवेदनशीलता का समावेश किया था।

जॉर्ज मैथ्यू एडम्स का लेखन काफी विस्तृत था। उन्होंने विभिन्न विषयों पर लेख लिखे थे, जिनमें से एक यह हैं:

सफलता के रहस्य – जॉर्ज मैथ्यू एडम्स ने सफलता के रहस्य पर अपने लेखों में विस्तार से विचार किए। उन्होंने बताया कि सफलता के लिए सबसे महत्वपूर्ण चीजें हैं: संघर्ष करना, संवेदनशील होना, सफल होने के लिए काम करना, और सफल होने के बाद भी आगे बढ़ते रहना।

जॉर्ज मैथ्यू आडम्स एक अमेरिकी लेखक और न्यूयॉर्क टाइम्स के संपादक थे। उन्होंने अपनी लेखनी के माध्यम से लोगों को प्रेरणा दी और उन्हें उनके जीवन के लिए निर्देशित किया।

उन्होंने इंटरनेशनल लॉ एंड टैक्स एक्सपर्ट के रूप में विश्वविद्यालय से स्नातकोत्तर डिग्री प्राप्त की थी।

उन्होंने लेखन की शुरुआत अपनी दैनिक न्यूजपेपर के लेखक के रूप में की, और बाद में उन्होंने न्यूयॉर्क टाइम्स में काम किया। उन्होंने लगभग २५ वर्षों तक अपनी नियमित कॉलम लिखी, जिसमें वे लोगों को प्रेरणा देते थे।

7 important point and you can book summary in hindi
image credit-pixabay.com

उनकी लेखनी उनके समय में बहुत प्रसिद्ध थी और उन्होंने एक सफल लेखक के रूप में अपनी अलग पहचान बनाई। उन्होंने नारी उत्थान, संघर्ष के बारे में लिखा |

जॉर्ज मैथ्यू एडम्स (George Matthew Adams) एक अमेरिकी लेखक, संवाददाता, उद्धारक, और संग्रहकार थे। वह जीवन के विभिन्न मामलों पर विस्तार से लेख लिखते थे और उन्हें लोगों तक पहुंचाने के लिए अपनी कला का उपयोग करते थे।

जन्म और शिक्षा:

उन्होंने विभिन्न विद्यालयों से अपनी शिक्षा पूरी की जैसे कि कॉर्नेल यूनिवर्सिटी और न्यू यॉर्क यूनिवर्सिटी।

पेशा जीवन:

जॉर्ज मैथ्यू एडम्स ने अपनी करियर की शुरुआत संवाददाता के रूप में की। उन्होंने न्यूज़पेपर्स में काम किया और बाद में स्वतंत्र संवाददाता के रूप में अपना काम शुरू किया। वे लोगों के साथ अपनी विचारधारा साझा करना चाहते थे जो सफल होना चाहते हैं, लेकिन जिन्हें लगता है कि वे अपने लक्ष्य के पास नहीं पहुंच सकते हैं।

उन्होंने लगभग 50 पुस्तकें लिखीं थी |

वह जनसंचार विज्ञान और आध्यात्मिकता के मुद्दों पर विशेषज्ञ थे। उन्होंने भारतीय धर्मों, ख्रिस्ती धर्म, अंग्रेज़ी साहित्य, उद्धरण और अन्य विषयों पर लेखन किया।

उन्होंने कई विभिन्न न्यूजपेपरों में संपादक के रूप में काम किया, जिसमें से सबसे अधिक उन्होंने न्यूयॉर्क टाइम्स में काम किया। उन्होंने एक भारतीय यात्रा की भी कहानी लिखी जिसमें वह भारत में अपने अनुभवों को विवरण दिया।

जॉर्ज मैथ्यू एडम्स (George Matthew Adams) वकील थे जिन्होंने अपने जीवन के दौरान अनेक उपलब्धियों की हासिल की। उन्होंने अपनी लेखनी के माध्यम से अपने पाठकों को संतुष्ट करने के लिए जीवन में धैर्य, संयम, ध्यान और अन्य महत्वपूर्ण गुणों के बारे में संदेश दिए।

उन्होंने संवाददाता के रूप में काम करना शुरू किया और बाद में वे एक संपादक बन गए। उन्होंने कुछ समय तक अपने पिता के साथ वकालत का काम भी किया। उन्होंने अपनी लेखनी के माध्यम से अपनी सोच को उजागर किया और अपने पाठकों को धैर्य, संयम और अन्य महत्वपूर्ण गुणों के बारे में संदेश दिए।

एडम्स ने विभिन्न लेखन परियोजनाओं में भाग लिया और कुछ उन्होंने अपने नाम से छापे भी। उनके लेखन का मुख्य ध्येय अपने पाठकों को संजीवनी देना था

जॉर्ज मैथ्यू एडम्स ने अपने व्यक्तिगत अनुभवों से लेखक के साथ अपने दृष्टिकोण को साझा किया है। उन्होंने अपनी खुशियों और दुखों की एक श्रृंखला के माध्यम से अपनी समृद्धि का संदेश दिया है।

जॉर्ज मैथ्यू एडम्स की इस पुस्तक में उनकी अंधी आस्था के बारे में विस्तार से वर्णन किया गया है। उनकी यह आस्था उन्हें उनकी जिंदगी के सबसे मुश्किल समयों में भी समर्थ बनाती रही।

इस पुस्तक में, एडम्स अपनी अंधी आस्था से कैसे निपटते थे वह बताते हैं, जब उन्होंने अपने व्यक्तिगत और व्यावसायिक जीवन में नाकामयाबियों का सामना करना पड़ा था। उनके जीवन में अंधी आस्था के मध्य से गुज़रने के दौरान वे कैसे अपने दोषों को स्वीकार करते थे और उनसे सीखते थे।

7 important point and you can book summary in hindi
image credit-pixabay.com

इस पुस्तक में एडम्स ने अपनी जिंदगी के कुछ सबसे अनुभवों का सामना किया है, जो आपको अपनी अंधी आस्था से निपटने के लिए प्रेरित करेंगे। यह पुस्तक आपको उनकी जिंदगी के अंधेरों से निकलकर उजाले की ओर ले जाएगी और आपको उनकी अंधी आस्था से सीखने का मौका देगी।

उन्होंने अपने जीवन के विभिन्न पहलुओं पर चर्चा की है, जैसे कि उनके संघर्षों, सफलताओं, विफलताओं और उनके दृष्टिकोण के बदलते पहलुओं के बारे में।

यह पुस्तक एक स्वतंत्र व्यक्तित्व की खोज के लिए एक श्रोताओं की गाथा है। जॉर्ज मैथ्यू एडम्स अपनी स्वतंत्रता की खोज में अपने जीवन के महत्वपूर्ण संघर्षों के साथ सामान्य मानव अनुभव को जोड़ते हैं।

इस पुस्तक में आपको संजीवनी मिलेगी, जो आपको अपने जीवन में सकारात्मक बदलाव लाने में मदद करेगी। जॉर्ज मैथ्यू एडम्स ने इस पुस्तक में एक स्वस्थ, शांत, और संतुलित जीवन के लिए संदेशों को साझा किया है।

इस बुक को पढ़े और इसके महतवपूर्ण बातों को समझे, हमारी एक सीमा है वहाँ तक मैंने इसे लिखा आगे जानने के लिए आपको खुद ही ये बुक पढनी पड़ेगी. धन्यवाद!

You may like this

7 IMPORTANT POINT AND MEDITATION BOOK SUMMARY IN HINDI

6 IMPORTANT POINT AND THE LAST LECTURE SUMMARY IN HINDI

Leave a Comment